तुम चुन सकते हो हमसफ़र नया, मेरा तो इश्क़ है मुझे इजाज़त नहीं।

मैंने रातों को जागकर देखा है, सुबह होने में सालों लगते है।

तसल्ली से पढ़ा होता, तो समझ में आ जाते हम, कुछ पन्ने बिना पढ़े ही पलट दिये तुमने। 

एक सुकून सा है तेरी बातों में, जब भी बात होती है, दिल खुश हो जाता है। 

हम भी किसी को तो रास आएंगे, कोई तो होगा ना जिसे सादगी पसंद होगी ।

उन्हें भ्रम है कि मुँह फेर कर, भूल पाएंगे हमें, कौन समझाए उन्हें, आँखें बंद करने से रात नहीं हुआ करती है। 

वही जिद, वही हसरत, ना दर्द ए दिल की कमी हुई, अजीब है मोहब्बत मेरी, ना मिल सकी ना ख़तम हुई।

दग़ाबाजी का भी शौक रख ऐ आशिक़ी के आशिक़, शरीफो की बाँहों में सनम नहीं होते। 

आज तुझे नहीं सोचूँगा। बस यही सोचते सोचते, तुझे दिन भर सोचा है मैंने। 

प्यार भरी 10 सुंदर हिंदी शायरी: भावनाओं का संग्रह